Category Archives: softwares

चिकित्सक टैली ९ का प्रयोग कैसे करें !! (How can a doctor use tally 9 to maintain his records)

 

 

चौकियें  नही , मै कोई टैली सिखाने की बात नही कर रहा हूँ , अनाडी इन्सान भला क्या सिखायेगा, गणित के सवाल और एकाउन्ट वैसे भी बायो वालों के लिये हमेशा से सरदर्द रहते हैं :)  ।  लेकिन कुछ दिन पहले जब नेट पर टैली ९ का working demo  ढूँढते-२ विनोद जी की एकाउन्टिगं की साईट पर जा पहुँचा , उनसे एक अनुरोध किया कि क्या कोई डेमो का लिंक मिल सकता है जिसमे टैली ९ की प्रयोग विधि समझाई गई हो , डेमो का तो विनोद जी कोई लिंक न दे पाये लेकिन हाँ मेरे अनुरोध पर  चिकित्सकों के लिये एक सचित्र वर्णन एक पोस्ट के जरिये से अवशय समझा दिया । देखें यहाँ और उनके  अनुभव का लाभ उठायें । टैली ९ का डेमो तो ढूँढते-२ टैली ७.२ का working demo अवशय मिल गया , देखें यहाँ ।  अब मुझे यह नही पता कि इसमे और टैली ९ मे कितना फ़र्क है । macromedia flash पर आधारित  यह एक उपयोगी working डेमो है ।

Advertisements

होम्योपैथिक साफ़्टवेएर- "होम्पैथ-९ " का हिन्दी संस्करण (Hindi Hompath 9.0 – Review with Features)

चित्रों को साफ़ और बडॆ आकार मे देखने के लिये चित्र पर किल्क करें । ( चित्रों के स्त्रोत : Cure Series से लिये गये हैं )

होम्पैथ ९ की संक्षिप्त समीक्षा

(डा. जवाहर शाह और नीलेश रौजै के साथ फ़ोन वार्ता और मेल के आधार पर )

जल्द ही रिलीज होने वाले होम्पैथ ९ का हिंदी संस्करण के  साफ़्टवेएर की प्रतीक्षा काफ़ी दिनों से थी । रिपर्ट्राइजेशन ( Repertorisation ) होम्योपैथिक प्रेसेक्राइंबिग का एक महत्वपूर्ण स्तंभ है । रोगी के लक्षणॊं को औषधि के लक्षणॊ  के साथ के मेल कराना इतना आसान नही जितना देखने मे लगता है । लेकिन रोगी उस भाषा मे नही बोलता जिसमे हमारी रिपर्टरी मे लक्षण समाये हैं । एक सफ़ल नुस्खे के लिये एक चिकित्सक के सामने महत्वपूर्ण कार्य रोगी के लक्षणॊं को रुब्रिक्स मे बदलना और उसके बाद लक्षणॊं के साथ मिलान कराना है । लेकिन अकसर अंग्रेजी  मे लिखे गये रुब्रिक्स ( रिपर्ट्री की भाषा ) को सही-२ रोगी की भाषा मे समझने मे कई बार भूलें हो जाती है जो विशेषकर  मानसिक लक्षणॊं को लेते वक्त देखी जा सकती हैं और नतीजा गलत प्रेसेक्रिप्शन । होम्पैथ ९ हिन्दी बहुल क्षेत्रों से आये चिकित्सकों के लिये एक महत्वपूर्ण साफ़्टवेएर सिद्द हो सकता है । जैसा कि नीलेश की मेल से लग रहा है कि इस मे फ़िलहाल केन्ट रिपर्ट्री और बोरिक को ही समावेश किया गया है ।

यह कितना user friendly होगा , यह आने पर ही मालूम पडेगा । अभी कुछ बाते स्पष्ट भी नही हैं , हिन्दी मे लिखने के लिये क्या अलग से साफ़्टवेएर डालना पडेगा ( जैसे बराह ) या इसको कोई और तरीके से जोडा है । अभी फ़िलहाल यह साफ़्टवेएर पॄर्ण समीक्षा के लिये उपलब्ध नही है , जैसे ही इसका डेमो आता है तब इसकी समीक्षा और सही –२ विशेलेषण हो सकेगा ।

माइन्ड मैपिंग साफ़्टवेएर ( Mind mapping software-a better way for expression)

किसी  विषय को एक प्रभावशाली ढंग मे व्यक्त करना भी एक कला है और अगर वह विषय अपने मूल थीम से जुडा लगे तो क्या कहना । "माइन्ड मैप " कुछ इसी तरह का ओपन आफ़िस फ़्रीवेएर साफ़्टवेएर है । जावा आधारित इस साफ़्टवेएर की  सहायता से मूल विषय को " root node " यानि  मुख्य जड गाँठ से जॊड कर और उससे जुडे विषय को अन्य गाँठॊं और शाखाओं में  दिखा सकते हैं ,शब्दों को कलात्मक ढंग से सजा सकते हैं  जो किसी भी प्रोजेक्ट को अत्यन्त प्रभावशाली बनाता है । लेकिन होम्योपैथिक चिठ्ठे पर इसकी आवशयकता क्यूं पडी । मैटेरिया मेडिका मे वर्णित औषधियों के हर लक्षण महत्वपूर्ण नही होते बल्कि कुछ प्रमुख लक्षणॊं पर ही दवा का चयन करना होता है । नीचे स्क्रीनशाट मे देखॆं कि अब औषधि को समझना और याद करना कितना सरल हो गया ।

"माइन्ड मैप " को इन्सटाल करने के पहले सुनिशिचित करें कि कम्पयूटर में जावा इन्सटाल है या नहीं , अगर नहीं है तो जावा इन्सटाल करें ।

"माइन्ड मैप " को डाऊनलोड करने के लिये यहाँ जाये ।

(चित्र को बड़े आकार में देखने के लिए उस पर क्लिक करें.)

Screenshot of Rumex

Screenshot of Aconite ( Thanks : Roger Knight )

Screenshot Of Anacardium ( Thanks : Roger Knight )

Screenshot of Lycopodium ( Thanks : Roger Knight )

A mind map is a diagram used to represent words, ideas, tasks or other items linked to and arranged radially around a central key word or idea. It is used to generate, visualize, structure and classify ideas, and as an aid in study, organization, problem solving, decision making, and writing.

It is an image-centered diagram that represents semantic or other connections between portions of information. By presenting these connections in a radial, non-linear graphical manner, it encourages a brainstorming approach to any given organizational task, eliminating the hurdle of initially establishing an intrinsically appropriate or relevant conceptual framework to work within.

A mind map is similar to a semantic network or cognitive map but there are no formal restrictions on the kinds of links used.

The elements are arranged intuitively according to the importance of the concepts and they are organized into groupings, branches, or areas. The uniform graphic formulation of the semantic structure of information on the method of gathering knowledge, may aid recall of existing memories.