Category Archives: बैच फ़्लावर औषधि

Role of Bach Flower Medicines during Ramzan & other fasting months [ guest post by Dr Bipin Kakkad ]

क्या रमजान मॆं बैच फ़्लावर औषधियां मदद कर सकती हैं तो जबाब है हाँ । आईयॆ देखते हैं कि BFR रोजेदारॊ या उपासकॊ की कैसे मदद कर सकती हैं ।

💐👉 BFR में सबसे पहलॆ नाम आता है वालनट ( Walnut ) का । Walnut link breaker का रोल करती है । चूँकि रमजान के दिनों में रोज का समय बद्ल जाता है और वालनट इसकॊ संतुलित कर लेता है ।

🌿👉अगर रमजान के दिनों मॆ कब्जियित , दस्त आना , गैस और तेजाबयित का बनना या इससे मिलती कोई भी समस्या हो , उसमें Walnut + Crab Apple देने से लाभ पहुँचता है ।

🌻👉CHERRY PLUM यह उन लोगों के लिये है जिनका खाने पीने पर कोई कन्ट्रोल नही रहता । जो उपवास नही रख सकते और भूख प्यास नही सहन कर सकतॆ ।

🌾👉OLIVE: एक तरह से देखा जाय तो ओलिव टानिक का काम करती है । रोजे से उत्पन्न कमजोरी को तो दूर करती है और साथ ही में मानसिक और शारिरिक रुप से इन्सान को सम्बल प्रदान करती है ।

🌲👉PINE : रोजा न रख पाने के कारण पशचताप होना , बार २ ऊपर वालॆ से माफ़ी माँगना ।

🌴👉HORNBEAM : जब कोई उपासक के मन मॆ यह दुविधा हो कि क्या मै उपवास रख सकूँगा ।

🍃👉IMPATIENTS : रोजे के दौरान किसी का स्वभाव जल्द ही क्रोधित हो जाना और उतनी जल्दी गुस्सा शान्त भी हो जाना ।

🍁👉LARCH : हिम्मत देना लार्च का स्वभाव है । जब किसी उपासक के मन मॆ यह धारणा बन जाय कि वह उपवास नही रख सकता ।

🍄👉RESCUE REMEDY : रेसक्यू रेमेडी का रोल वृहद है । किसी भी आपातकालीन स्थिति मे इसका रोल है ।

लेखक :

dr bipin kakkad

डा. बिपिन काकड :  होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति मे तो निपुण है ही  लेकिन साथ बैच फ़्लावर विशॆयज्ञ के रुप में राजकोट , गुजरात से डा. बिपिन काकड जी की पहचान है । फ़ेसबुक पर उनका ” बैच फ़्लावर स्टडी ग्रुप ” अल्प समय मॆ ही लोकप्रिय हो चुका है । इस ब्लाग मॆ उनकी यह पहली पोस्ट है | अपनॆ अनुभवॊ को एसे ही साझा करते रहेगॆ , ऐसा हमारा विशवास है ।

Mind map & Bach Flower Remedies

माइंड मैप और बैच फ्लावर औषधियां

SimpleMind-Mind-Map-BACHS-SEVEN-GROUPS-OF-REMEDIES_thumb.jpg

माइंड मैप मूल रूप से एक डायग्राम है जो केंद्रीय विषय के आसपास की जानकारी को जोड़ता है। यह एक पेड़ की तरह लगता है, जिसमें इनफॉर्मेशन को कई शाखाओं में बाटा जाता हैं। किसी भी माइंड मैप में मुख्‍य आडिया को सेंटर में रखा जाता हैं और उसके सब टॉपिक या संबंधित आडियाज उसकी शाखाएं होती हैं।

As saying goes, “A picture is worth a thousand words”

किसी भी सोचने या सीखने की टास्‍क को आसान बनाने के लिए माइंड मैप को इस्‍तेमताल किया जा सकता हैं।

माइंड मैप नीरस इनफॉर्मेशन की एक लंबी लिस्‍ट को एक रंगीन, यादगार और अत्यधिक संगठित डायग्राम में बदल सकता है जो आपके मस्तिष्क के काम करने के प्राकृतिक तरीके के अनुरूप काम करता है।

बैच फ्लावर औषधियों के लक्षण मुख्यतः मानसिक होते है । केन्द्रीय बिंदु मानसिक लक्षणों के इर्दगिर्द घूमता है । इन 38 बैच दवाओं को हमने माइंड मैप के जरिये से समझाने की कोशिश की है । यह एक लम्बी सीरीज है जिस को आप हर अंक में देख सकते है । इन माइंड मैप को अपने कम्प्यूटर/लैपटाप/मोबाइल में सेव करने के लिए

https://www.facebook.com/groups/bachflower.study.group/ से भी सीधे डाउनलोड कर सकते है । यह एक स्टडी ग्रुप है जो बैच फ्लावर से सबंधित दवाओं के बारे में जानने , समझने और प्रैक्टिकल प्रयोग के लिए उपयोगी ग्रुप है।

इन सभी बैच दवाओं  के माइन्ड मैप के लिये Simple Mind map pro  साफ़्ट्वेअर प्रयोग किया है जो एन्ड्रोएड और डेस्क्टाप दोनों पर ही चलता है । यहां एन्ड्रोएड वर्जन का प्रयोग किया गया हैं ।

आशा करता हूं कि इन माइन्ड मैप के जरिये से बैच फ़्लावर दवाओं के चारिर्त्रिक लक्षणॊ को याद करने और समझने मे आसानी रहेगी और एक ऐसी अनूठी चिकित्सा पद्ध्ति जो मानसिक रोगियों और मनोकायिक रोगियो के लिये वरदान साबित होगी ।

मैं विशेषकर फ़ेसबुक पर चल रहे बैच फ़्लावर स्टडी  ग्रुप से जुडे चिकित्सक बिपिन काकड जी का आभार व्यक्त करना चाहूगाँ जिन्होने समय २ पर मार्गदर्शन देने का भार उठाया ।

भवतु सब्ब मगंलम

डॉ. प्रभात कुमार टण्डन

Dr Tandon Homeopathic Clinic

Daligunj / Faizullagunj

Lucknow

http://www.facebook.com/groups/bachflower.study.group

Daligunj Clinic : Meo Lodge , Ramadhin Singh Road, Daligunj , Lucknow

Location Link : https://goo.gl/maps/7U2eFUZXUP72

Fazullagunj Clinic : Shop No 7 ,Ghazi Complex , Ghaila ,  Fazulagunj , Lucknow

Location link : https://goo.gl/maps/cx5DQjgEgu42

 

Mind map of Pine

SimpleMind Mind Map - पाइन ( Pine )

एडवर्ड बैच के अनुसार :

“ For those who blames themselves . Even when succesful they think they could have done better and are never contended with their efforts or the results . They are hard working and suffer much from the faults working and suffer much from the faults attach to themselves . Sometimes if there is any mistake it is due to others , but they will claim resposibility even for that

पाइन पर पह्ले भी लिख चुका हूँ । यह एक बुजुर्ग मुस्लिम अनुयायी का केस था जो अपने ही अतंर्द्न्द के होते हुये मानसिक अवसाद तक जा पहुँचा । देखॆं : मेरी डायरी से -“बैच फ़्लावर औषधि–पाइन” : https://drprabhattandon.wordpress.com/2012/03/30/pine-bach-flower-remedy/

और यह भी देखॆ :

COMBINING TWO OR MORE BACHFLOWER MEDICINE EFFECTIVELY IN A CASE OF EPLIEPSY WITH DETAILED EXPLANATION OF CENTAURY AND PINE (अपस्मार या मिर्गी के रोगी मे सम्मिश्रित बैचफ़्लावर दवाओं के सफ़ल प्रयोग )

पाइन व्यक्तित्व का व्यक्ति छॊटी २ गलतियों केलिये अपने आप को दोषी समझते हैं । वैसे पाइन का व्यक्तित्व मेहनती , ईमानदार और दूसरॊ का दु:ख दर्द मे शरीक होने होते हैं । धर्म कर्म में इनकी आस्था और विशवास होता है । अत्यन्त उच्च आर्दश्वादी होने के कारण अगर उन आर्दशॊं के पालन करने मे कुछ भूल रह जाती है तो अपराध बोध की भावना से ग्रस्त हो जाते हैं ।

पाइन का व्यक्तित्व अपनी ही नजर में बौना सा रहता है । अपनी ही उपल्ब्धियों को वह कम कर के आँकते हैं और दूसरों से कम योग्य सम्झते हैं ।और यहि उनके अवसाद का कारण भी रहता है । पाइन ऐसे मनुष्यों मे नकरात्मक सोच को दूर करके अपराधबोध की भावना से मुक्त करती है ।

पाइन स्वभाव वाले व्यक्तित्व के कुछ  ऋण पक्ष :

  • हीन भावना (guilty complex )
  • स्वदोषी ( self reproach )
  • अन्तर्मुखी ( introvert )
  • बात-२ में क्षमा करने का उपयोग करना ।
  • दूसरों के दोषों के लिये भी अपने को दोषी ठहराना ।
  • संकोची व्यक्तित्व

PINE [Pine]

Self condemnation. ‘Guilt complex’. Blames himself even for the fault of others. Over conscientious, always tries to improve his work, and never satisfied with his own achievements. Even when trying his best to improve the lot of his fellow men, if he falls ill, he would still blame himself for not doing enough in his noble mission. He is, so to say, always on the look out for an excuse to blame himself. He can never be happy, as he allergic to happiness.

BOTANICAL NAME: Pinus sylvestris

KEYNOTES
: -Self-reproach, guilt feelings, despondency.

-Tired and worn out feeling.

-Never really satisfied with themselves.

-Blame themselves, asks more of himself than of others, and if the high standards applied to himself cannot be lived up to, he feels guilty and desperately blames himself in his heart.

-Will tend to be the scapegoat in the class and will uncomplainingly take the punishments for crimes they have not even committed.

-Always apologizing and using apologetic phrases in conversation.

-Feels guilty when need arises to speak firmly to others.

-Childish nervousness.

-Feels unworthy, inferior. Considers self a coward.

-Masochistic desire to sacrifice themselves and may punish themselves for life by choosing an inconsiderate partner.

-Religious beliefs strong, sees sexuality as sin.

-Negative narcissism.

-Personality shuts itself off from love, feels undeserving of love.

-Feeling he does not deserve anything.

-Introverted, little joy in life.

Mind Map of Cherry Plum

CHERRY PLUM [Cher-p]

  1. शारीरिक और भावात्मक आवेशों पर नियंत्रण का अभाव (Fear of losing one’s mind )
  2. क्रोध और आवेश की स्थिति में अशोभनीय हरकतें , स्वयं से भय ( Fear of loss of control , uncontrolled outbreaks of temper , feels he will become mad )
  3. मानसिक आवेग पागलपन तक

Desperation. Fear of losing his mind’s control over his actions. Can do anything, even kill somebody or kill himself at the spur of the moment, without thinking.

Unbearable condition of the mind. Apt to act on impulse than on reason.

BOTANICAL NAME: Prunus cerasifera

KEYNOTES
: -People losing their self-control on heading for a breakdown. Desperate, about to have a nervous breakdown.

-Fear of doing something terrible at any moment (something one would never normally do) and then having to regret for it for the rest of one’s life.

-Afraid one is going mad.

-Compulsive ideas, de
outbreaks of rage.

-Destructive impulses, danger of suicide.

-Useful in the treatment of bedwetting in children (self- control of daytime released during sleep, when there is no conscious body control).

-Useful for rehabilitation of drug addicts.

Seven stages in the healing of disease according to Dr. Edward Bach

Dr Edward Bach, the creator of the first floral treatment system, wrote much about the real cause of the diseases and what he called their “true cure”. In this brief video, the seven stages of the cure of diseases described by Dr. Bach in the text “Free yourself”, published in 1932, were discussed. The phrases selected to reinforce each one of the seven stages of healing defined by Dr. Bach are of his own authorship, extracted from different texts of him.

Courtesy :
Cristina Venancio da Silva – BFRP
BRZ – 2018 – 0620V
(Bach Foundation Registered Practitioner)

Mind Map Of Mimulus

SimpleMind Mind Map - Mimulus ( मिमुल्स ) (1)

ज्ञात भय , घबराहाट , झिझक , किसी चीज का डर ।

भय संबधित दवाओं मे मिमुल्स विशॆष स्थान रखती है । इस ग्रुप की अन्य दवायें हैं :

SimpleMind Mind Map - डर ( Fear )

ऐसपेन : अज्ञात चीजों का डर

मिमुलस : ज्ञात चीजों का डर

राकरोज : आतंक संबधित डर

चेरी प्लम : स्वंय से डर

रेड चेस्ट नट : मित्रॊ और प्रियजनों के लिये डर

 

MIMULUS [Mimul]

Fear of anything -of dogs, snakes, cancer, any person, ghost, examination etc. Nervousness from speaking in public,
from walking alone in dark, from appearing before a Selection Board. Nervousness and fear of a known origin.

Sensitive people may blush, stammer or get their throat suddenly choked in the presence of strangers or may start talking fast out of sheer nervousness, although they are normally quiet.

 
BOTANICAL NAME
: Mimulus guttatus

KEYNOTES
: -Concrete, specific, endless fears and phobias.

-Shy, reserved, timid, afraid of the world.

-Want to withdraw from this world, feel life on earth is like a burden on their backs.

-Afraid to be alone, but shy and nervous in company.

-Very anxious when meeting with opposition.

-Delicate build and very sensitive physically.

-Unsure of oneself, apt to stammer, blush or talk far too much, giggle nervously, or suffer from damp palms of the hands from sheer nervousness.

-Usually peaceable.

-They fall ill if the pressure gets too great, develop headaches, cystitis.

-Tend to be over careful in convalescence and with this delay the process of recovery.

 
REMEDY RELATIONSHIPS
: -Compare-Aspen (vague fears)
-Rock rose (very acute fears bordering on terror).

Mind Map of Honeysuckle

SimpleMind Mind Map - Honeysuckle ( हनिसकल )(1)

Honeysucke :

“ पुरानी यादॊं में खोये रहना , भूतकाल की घटना की याद मॆ ऐसा खोना कि वर्तमान की हालात से बिल्कुल लापरवाही , घर की याद करना ”                                         डा. एडवर्ड बैच

Always thinking and talking of the past events and life.

Cannot break contact with the past events. Regrets and remorse for the past events. Does not live in the present, makes no effort to solve the present difficulties, escapism into the past. Cannot get over the loss of a person one loved (parent, child, spouse, friend).

BOTANICAL NAME: Lonicera caprifolium

KEYNOTES
: -Longing for the past, regrets over the past.

-Lives mentally in the past, has no interest in the present.

-Glorifies the past, expecting it to return.

-Can’t accept any change, still clinging to the past.

-Unconsciously refuse to see and accept new developments.

-They fix their mind on just one aspect, usually a pleasant one, regret for missed opportunities, missed chances and unfulfilled hopes.

-Honeysuckle helps the dying to ‘let go’ more easily.

-Cannot get over the loss of a person one loved.

-Recollections of childhood.

-It can be used to combat regret that one is getting old.

-Homesickness.

 
REMEDY RELATIONSHIPS
: -Compare-Clematis (escapes from the present into a fantasy life, hoping for a better future).

-Honeysuckle (escapes to the past and expects nothing positive from present and future).