Monthly Archives: नवम्बर 2008

ओजोन -एक "आश्चर्यजनक औषधि "

ozone

राजौर वान जैन्डर्वूर्ट (Roger van Zandvoort ) की कम्पलीट रिपर्ट्री मे अगर हम देखें तो अधिकतर लक्षणॊं के समूह  के आगे अन्य औषधियों के अलावा  ओजोन का जिक्र आता है , ( जैसा कि मेरा क्लासिक होमपैथ सर्च कर के इंगित कर रहा है । ) बहुत दिनों से जानने की  इच्छा थी कि ओजोन पर शोध पत्र और प्रूविगं कही दिखें । क्लार्क डिस्शनेरी आफ़ होम्योपैथिक मैटेरिया मेडिका  -भाग ३ मे इसका जिक्र अवशय आता है लेकिन पूरी तरह से नही , जौन शेलटन की elements of homoeopathy मे इसको व्यापक रुप से जगह दी गयी है । देखें   pdf  | हाल ही मे ओजोन  पर विलोई बिकोई की यह पुस्तक हाथ लगी जिसने एक बार फ़िर से ओजोन पर पढने और उपयोग करने की इच्छा को दोबारा जागृत कर दिया ।

ओजोन के प्रयोग

ओजोन एक oxidising अणु है, जो रक्त घटकों के साथ  मिलकर प्रतिक्रिया रुप मे कई महत्वपूर्ण जैविक कार्यों को सक्रिय करने के लिए उत्तरदायी रहता है जैसे ऑक्सीजन डिलीवरी, प्रतिरक्षा सक्रियण, हार्मोन और एंटी एंजाइमों के प्रेरण की रिहाई   जो atherosclerosis, मधुमेह, संक्रमण और कैंसर में एक महत्वपूर्ण रोल निभा सकता  है . इसके अलावा ओजोन थेरेपी नाइट्रिक ऑक्साइड synthase को induce   करके  अंतर्जात स्टेम सेल को जुटाने मे मदद कर सकता है  जिससे संभवत: इस्कीमिक ऊतकों के उत्थान को बढ़ावा मिलने की संभावना मिल सकती है । इन सब को समझने के लिए ओजोन कैसे काम करता है और एक दवा के रूप में चिकित्सकीय सीमा के भीतर कैसे विकिसित किया जा सकता है विलोई बोकोई की यह पुस्तक शोधकर्ताओं, चिकित्सकों और ozonetherapists को नये सिरे से सोचने पर मजबूर कर सकती है ।

अपने देश मे ओजोन किसी भी पोटेन्सी मे उपलब्ध नही है , होम्योपैथिक दवा इन्डस्ट्री से जुडे दो महत्वपूर्ण ईकाई बोरोन (Boiron India) और शवाबे इंडिया (Schwabe India)  से अनुरोध है कि इसकी उपलब्धता अपने देश मे भी करें ।

  • OZONE  – A New Medical Drug  को डाऊनलोड करने के लिये यहाँ किल्क करें ।
  • ओजोन पर जौन शेलेटन की elements of homeopathy  के PDF को यहाँ से डाउनलोड करें  ।

OZONE
A New Medical Drug

    by

Velio Bocci
Medical Doctor, Specialist in Respiratory Diseases and Haematology and Emeritus Professor of Physiology at the University of Siena,
Siena, Italy

Oxygen-ozone therapy is a complementary approach less known than homeopathy and acupuncture because it has come of age only three decades ago. This book clarifies that, in the often nebulous field of natural medicine, the biological bases of ozone therapy are totally in line with classic biochemical, physiological and pharmacological knowledge. Ozone is an oxidising molecule, a sort of superactive oxygen, which, by reacting with blood components, generates a number of chemical messengers responsible for activating crucial biological functions such as oxygen delivery, immune activation, release of hormones and induction of antioxidant enzymes
, which is an exceptional property for correcting the chronic oxidative stress present in atherosclerosis, diabetes, infections and cancer. Moreover ozone therapy, by inducing nitric oxide synthase, may mobilize endogenous stem cells, which will promote regeneration of ischaemic tissues. The description of these phenomena offers the first comprehensive picture for understanding how ozone works and why, when properly used as a real drug within the therapeutic range, not only does not procure adverse effects but yields a feeling of wellness. Half of the book describes the value of ozone therapy in several diseases, particularly cutaneous infections and vascular diseases where ozone really behaves as a "wonder" drug. The book has been written for clinical researchers, physicians and ozonetherapists but also for the layman or the patient interested in this therapy.

Download Link : http://rapidshare.com/files/164811791/Ozone_-_A_New_Medical_Drug.pdf

Advertisements

क्या रुटा मस्तिषक अर्बुद्द (Brain Tumour) के रोगियों के लिये वरदान साबित होगी ?

आरम्भिक परिणाम तो कुछ –२ इसी तरफ़ इशारा कर रहे हैं । हाल ही मे स्पेन और कोलम्बिया यूनिवर्सटी से आये दो अलग-२ दलों ने कोलकाता के डा. प्रशान्त बैनर्जी कैन्सर रिसर्च सेन्टर ,  मे आ कर कैन्सर मे होम्योपैथिक दवाओं के परिणामों  की जानकारी और अध्यनन किया । कोलम्बिया यूनिवर्सीटी ने तो फ़िलहाल पिछले साल से इस सेन्टर से अनुबंध भी कर रखा है । देखे यहाँ और यहाँ

लेकिन बात रूटा और कोलकाता के डा. प्रशान्त बैनर्जी कैन्सर रिसर्च सेन्टर की । कुछ साल पहले पबमेड पर प्रकाशित एक रिसर्च पेपर ने कैन्सर से जुडॆ कई शोध संस्थान और स्वंयसेवी संस्थाऒं का ध्यान आकृष्ट किया । डा प्रशान्त बैनर्जी का तरीका हाँलाकि क्लासिकल होम्योपैथों को भले ही रास न आये क्योंकि यह होम्योपैथी के मूलभूत सिद्दातों के खिलाफ़ है , फ़िर भी मिलने वाले परिणाम होम्योपैथी मे एक नये युग की शुरुआत अवशय कर सकते हैं । प्रिसक्राबिग का तरीका आसान है और मूलत: disease diagnosis पर ही आधारित है जब कि क्लासिकल होम्योपैथी रोगी को संम्पूर्ण रूप से लेकर चलती है।। नीचे देखें साउथ कैलीफ़ोर्निया यूनीवर्सिटी  की एक कान्फ़्रेन्स मे प्रशान्त अपने तरीकों को श्रोतागणों को समझाते हुये । रुटा से संबधित डा. प्रशान्त बैनर्जी के इस लेख को आप यहाँ भी देख सकते है । रूटा पर चल रहे क्लीनीकल परीक्षण की जानकारी के लिये यहाँ देखें ।

अब रुटा के ऊपर चर्चा कर ली जाये । दक्षिण अमेरिका मे पाये जाने वाले इस पौधे की गाछ से इसका टिन्चर तैयार किया जाता है । होम्योपैथी मैटेरिया मेडिका और रिपर्टिरी मे इसका उल्लेख कैन्सर मे नही है । मूलत: इस दवा का उपयोग काँच निकलने ( prolapse rectum), रात मे अनजाने पेशाब हो जाने पर ( nocturnal enuresis) ,शरीर के किसी भी स्थान पर चोट लगने के बाद प्रदाह ( synovitis) होने पर , बहुत से शल्य चिकित्सा वाले उपसर्गों मे  रुटा उपयोगी होता है विशेषकर अस्थि आवरक झिल्ली की तकलीफ़ जहाँ   हड्डी पर का माँस कम  रहता है जैसे टिबीया (Tibia)  । कुचले हुये स्थान का दर्द चला जाता है लेकिन एक कडी जगह छोड जाता है । रुटा रस टाक्स के कई अर्थों मे सदृश है , विशेषकर ठन्डक से रोगी का असहिष्णु रहना और शीतकाल मे रोग का बढना । लेकिन हकीकत मे इस दवा की परीक्षा उतनी नही हुयी । मैटेरिया मेडिका मे कैन्सर से संबधित कोई भी उल्लेख न होने पर यह अवशय ताज्जुब लगता है कि रुटा का प्रयोग कैन्सर मे डा. प्रशान्त बैनर्जी  ने क्यों किया ।

Anti-tumour activity of Ruta graveolens extract.
source:  Pubmed
Preethi KC, Kuttan G, Kuttan R.

Amala Cancer Research Centre, Amala Nagar, Thrissur, Kerala-680555, India.

An extract of Ruta graveolens was found to be cytotoxic to Dalton’s lymphoma ascites (DLA), Ehrlich ascites carcinoma (EAC) and L929 cells in culture (IC100=16 mg/ml) and also to increase the lifespan of tumour bearing animals. The extract further decreased solid tumours developing from DLA and EAC cells when given simultaneously with elongation of the lifespan of tumour-bearing animals. A homeopathic preparation of Ruta graveolens (200 c) was equally effective. Neither was effective for reducing already developed tumours. The Ruta graveolens extract was found to scavenge hydroxyl radicals and inhibit lipid peroxidation at low concentrations. However, at higher concentrations the extract acted as a prooxidant as inhibition of lipid peroxidation and scavenging of hydroxyl radical was minimal. These data indicates that the prooxidant activity of Ruta graveolens may be responsible for the cytocidal action of the extract and its ability to produce tumour reduction.

 

Ruta 6 selectively induces cell death in brain cancer cells but proliferation in normal peripheral blood lymphocytes: A novel treatment for human brain cancer.
Source : PubMed

Pathak S, Multani AS, Banerji P, Banerji P.

Department of Molecular Genetics, M.D. Anderson Cancer Center, Houston, TX 77030, USA. pathak_sen@yahoo.com

Although conventional chemotherapies are used to treat patients with malignancies, damage to normal cells is problematic. Blood-forming bone marrow cells are the most adversely affected. It is therefore necessary to find alternative agents that can kill cancer cells but have minimal effects on normal cells. We investigated the brain cancer cell-killing activity of a homeopathic medicine, Ruta, isolated from a plant, Ruta graveolens. We treated human brain cancer and HL-60 leukemia cells, normal B-lymphoid cells, and murine melanoma cells in vitro with different concentrations of Ruta in combination with Ca3(PO4)2. Fifteen patients diagnosed with intracranial tumors were treated with Ruta 6 and Ca3(PO4)2. Of these 15 patients, 6 of the 7 glioma patients showed complete regression of tumors. Normal human blood lymphocytes, B-lymphoid cells, and brain cancer cells treated with Ruta in vitro were examined for telomere dynamics, mitotic catastrophe, and apoptosis to understand the possible mechanism of cell-killing, using conventional and molecular cytogenetic techniques. Both in vivo and in vitro results showed induction of survival-signaling pathways in normal lymphocytes and induction of death-signaling pathways in brain cancer cells. Cancer cell death was initiated by telomere erosion and completed through mitotic catastrophe events. We propose that Ruta in combination with Ca3(PO4)2 could be used for effective treatment of brain cancers, particularly glioma.