डेंगूं या डेंगूं फ़ोबिया

कम से कम लखनऊ के बारे मे अवशय कह सकता हूँ कि यहाँ डेंगूं का प्रकोप कम है और डेंगूं फ़ोबिया अधिक । यह मेरा निष्कर्ष अचानक नहीं है परन्तु मेरे और भी साथी चिकित्सकों का भी जो दूसरी पद्दतियों से हैं। गत 10 दिनों मे प्लेटलेटस की गणना मैने करीब 120 रोगियों मे करायी उनमे अधिकाश मे प्लेटलेटस की संख्या सामान्य निकली और जिन रोगियों मे प्लेटलेटस बहुत कम निकले , वह भी दोबारा जाँच कराने मे सामान्य निकले । यह एक बहुत महत्वपूर्ण तथ्य है और इस बात को भी इंगित करता है कि कहीं कुछ गडबड है. इसलिये अगर आप के घर मे या फ़िर किसी परिचित मे डेगू की जाँच मे प्लेटलेटस कम निकल रहे हैं उनकी जाँच दोबारा किसी और पैथोलोजी लैब मे अवशय करवायें। कुछ साल पहले तक हर पैथोलोजी लैब प्लेटलेटस की जाँच स्लाइड से कराते थे लेकिन अब यह ऐनालाइजर से करते हैं , जिन रिपोर्टों मे यह कम पाया गया और बाद मे 24 घटें के अन्दर यह सही पाया गया , वह लखनऊ की कोई ऐसी-वैसी लैब नही हैं बल्कि अत्यंत नामी लैब हैं।

4 responses to “डेंगूं या डेंगूं फ़ोबिया

  1. डाक्टर साहब एक सवाल हैः क्या ये डेंगूं बुखार बहुत ही जान लेवा है – मतलब इस बिमारी से इनसान मर जाता है?
    इसका कोई आसान इलज है क्या?

    कृपया ज़रूर जवाब दें

  2. हाँ, शुऐब,जान को खतरा तो डेगूं से अवशय ही है। डेंगूं बुखार मे सारा खेल प्लेटलेटस का ही है।
    प्लेटलेटस रक्त(blood)को जमने(clotting)मे मदद करती हैं।

    Platelets help blood to clot. They are found in the blood flowing through the blood vessels. Platelets also line the inside of the blood vessel. When low blood platelet count is present, this layer thins and tiny drops of blood can leak through the spaces made when this layer thins, causing red dots on the skin called petechiae (pa-TEE-kee-eye).

    Normal Platelet Count 150,000 – 400,000 cells/mm3

    Note: Normal values will vary from laboratory to laboratory.

    When low blood platelet count present a person is at an increased risk of bleeding.

    Risk of Bleeding is based on the Platelet Count

    100,000 – 149,000 cells/mm3 Little to no risk of bleeding
    50,000 – 99,000 cells/mm3 Increased risk of bleeding with injury
    20,000 – 49,000 cells/mm3 Risk of bleeding increased without injury
    10,000 – 19,000 cells/mm3 Risk of bleeding greatly increased
    Less than 10,000 Spontaneous bleeding likely

    When you suffer from low blood platlet count you may notice:

    Increased bruising
    Petechiae (red dots on your skin described above)
    Bleeding from nose, gums, rectum

    डेंगूं बुखार मे चूँकि Platelet की संख्या काफ़ी कम हो जाती है इसीलिये जान का खतरा हमेशा बना रहता है।
    एलोपैथी मे इसका न तो कोई उपचार है , सिवाये कि अगर Platelet की संख्या काफ़ी कम हो जायें तो बहार से उनको चढा के पूर्ति की जाये लेकिन कम से कम होम्योपैथी से इसका बचाव और इलाज दोनों ही संभव है, इसके लिये डेंगूं बुखार पर पहले की पोस्ट देखें।

  3. I had purpura for more than 3 years

    Treated with Omnacortil etc by a dermatologist

    Aggravated two months back and on blood test, found platelet count low = 68000

    All tests and scans done at CMC Vellore India, showed no reason. It is ITP and Vasculitis.

  4. Its Family from mosqito,Now some south india area some part this disease epidemic. homeopathy medicine has preventive medicine is their.

    Thanks

    Dr Harshad Raval MD[hom]
    Honorary consultant homeopathy physician to his Excellency governors of Gujarat India. Qualified MD consultant homeopath ,International Homeopathy adviser, books writer and columnist. Specialist in kidney, cancer, psoriasis, leucoderma and other chronic disease

एक उत्तर दें

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s